बिहार में पहली बार राष्ट्रमंडल संसदीय सम्मेलन,सजाया गया विधानमंडल भवन

0
944

बिहार में पहली बार राष्ट्रमंडल संसदीय संघ (सीपीए) सम्मेलन 16 से 19 फरवरी तक पटना में आयोजित हो रहा है। इसके लिए विधानमंडल परिसर को विशेष रूप से सजाया गया है। सम्मेलन में देश-दुनिया के प्रतिनिधि आएंगे। 18 फरवरी को विधानसभा में विमर्श व्याख्यान होगा। विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी ने बताया कि यह भारत प्रक्षेत्र का छठा सम्मेलन होगा, जिसमें पूरी दुनिया से प्रतिनिधि शामिल होंगे। भारत प्रक्षेत्र के अलावा सीपीए के अन्य आठ प्रक्षेत्रों को भी इसमें आमंत्रित किया गया है। उन्होंने आने की सहमति दी है। बिहार आतिथ्य के लिए पूरी तरह तैयार है। देश-दुनिया से जितने भी प्रतिनिधि आएंगे, वे बिहार के संबंध में सुखद स्मृति लेकर जाएंगे।

स्पीकर ने कहा कि इस सम्मेलन में देश-दुनिया के लोगों को न केवल बिहार को करीब से देखने-जानने का अवसर मिलेगा, बल्कि वे एक-दूसरे से बेहतर इंटरेक्शन कर सकेंगे। निकायों को दूसरे निकायों के बेहतर कार्यों को अपनाने का भी अवसर मिलेगा। अच्छी चीजों को जानने-सीखने का भी अवसर रहेगा। यह कार्यक्रम बिहार के लिए गौरव की बात है।

विधानमंडल भवन सजकर तैयार

सीपीए सम्मेलन के लिए बिहार विधानमंडल परिसर को पूरी तरह सजाया गया है। खासकर विधानसभा को नया लुक दिया गया है। नई साज-सज्जा के साथ बड़े पैमाने पर फूल व घास लगाए गए हैं। विधानसभा परिसर में नया वाहन स्टैंड के अलावा लैंड स्लाइड बनाया गया है। विधानसभा और सचिवालय के नए भवन के बीच घास बिछाए गए हैं। परिसर के अंदर नई सड़क बनाई गई है। पूरा भवन बिजली की सजावट से जगमग रहेगा।

अधिकारी पहुंचे

लोकसभा के अधिकारियों का एक दल बुधवार को पटना पहुंच गया। उसने विधानसभा पहुंचकर तैयारियों का जायजा लिया। एक दल गुरुवार को आएगा। उधर, देश-दुनिया के प्रतिनिधि भी गुरुवार से पटना पहुंचने लगेंगे। उनके ठहरने के लिए राजधानी के बेहतर होटल लिए गए हैं।

दो दिनों तक मंथन, चौथे दिन गया-राजगीर-नालंदा का भ्रमण

सीपीए सम्मेलन में आने वाले प्रतिनिधि 16 से 18 फरवरी तक विचार-विमर्श करेंगे, लेकिन अंतिम दिन वे बोधगया-गया-राजगीर-नालंदा की सैर करेंगे। 16 फरवरी को होटल मौर्या में सीपीए के भारत प्रक्षेत्र की एक्जीक्यूटिव कमेटी की बैठक होगी, जबकि 17 को ज्ञान भवन में उद्‌घाटन समारोह होगा। लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन उद्‌घाटन भाषण देंगी। मुख्य अतिथि के रूप में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार समारोह को संबोधित करेंगे। इसके पहले सीपीए एक्जीक्यूटिव कमेटी की अध्यक्ष एमिलिया लिफाका का संबोधन होगा। उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी व विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव भी कार्यक्रम को संबोधित करेंगे। समारोह की शुरुआत स्पीकर विजय कुमार चौधरी के स्वागत भाषण से होगा। विधान परिषद के कार्यकारी सभापति हारुण रशीद धन्यवाद ज्ञापन करेंगे।

आज आएंगी सुमित्रा महाजन

सम्मेलन में भाग लेने के लिए लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन 16 फरवरी को दोपहर 3:20 बजे एआई-407 विमान से पटना हवाई अड्डा पर आएंगी। पटना हवाई अड्डा पर उनका स्वागत स्पीकर विजय कुमार चौधरी और पटना के डीएम कुमार रवि करेंगे। डीएम ने बताया कि लोकसभा अध्यक्ष को वीआईपी कार से फ्लाइंग क्लब लाया जाएगा। यहां पर उन्हें गार्ड ऑफ ऑनर दिया जाएगा। इसके बाद वीआईपी कार राजभवन के लिए प्रस्थान करेगी। सम्मेलन में भाग लेने के लिए देश और विदेश से आने वाले सभी डेलिगेट्स का स्वागत पटना एयरपोर्ट पर होगा।

17 से मुरली मनोहर जोशी व रविशंकर प्रसाद का व्याख्यान

17 फरवरी को विधानसभा एसेंबली हॉल में ही दूसरा सत्र होगा। मुरली मनोहर जोशी पार्लियामेंट्स रोल इन डेवलपमेंट एजेंडा पर, जबकि केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद विधायिका व न्यायपालिका-लोकतंत्र के दो स्तंभ पर व्याख्यान देंगे। इसके बाद जोशी के टॉपिक पर विमर्श होगा। अंत में जनरल एसेंबली की बैठक होगी। 18 को रविशंकर प्रसाद के विषय पर विमर्श होगा। इसी दिन सुमित्रा महाजन, राज्यपाल सत्यपाल मलिक, विजय चौधरी व हारुण रशीद भी समारोह को संबोधित करेंगे।

पहले दिन सीएम, दूसरे दिन का भोजन चौधरी व हारुण रशीद कराएंगे | 17 फरवरी की रात का भोज मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की ओर से होगा। उन्होंने 1, अणे मार्ग में अतिथियों को आमंत्रित किया है। दिन में ज्ञान भवन में ही भोजन होगा। अगले दिन 18 फरवरी को दिन में हारुण रशीद कबीर वाटिका में सबको भोजन कराएंगे, जबकि रात का भोज स्पीकर विजय कुमार चौधरी स्टेट गेस्ट हाउस में देंगे।

16-19 तक कुछ मार्गों पर बंद रहेगा ट्रैफिक

राष्ट्रमंडल संसदीय संघ भारत प्रक्षेत्र का छठा सम्मेलन 17 व 18 फरवरी को पटना में होगा। इस कारण 16 से 19 फरवरी के बीच बेली रोड समेत शहर के अन्य मार्गों पर अतिथियों के आगमन और प्रस्थान के समय ट्रैफिक कुछ देर के लिए बंद किया जाएगा। ट्रैफिक एसपी पीके दास ने बताया कि 16 फरवरी को अतिथियों का आगमन एयरपोर्ट पर होगा। यहां सेे अतिथियों को पटेल चौक, राजेंद्र चौक, देशरत्न मार्ग, ललित भवन, पुनाईचक चौराहा, आयकर गोलंबर, डाकबंगला चौराहा, फ्रेजर रोड, जेपी गोलंबर से होटल मौर्या, होटल पनास, होटल लेमन ट्री में पहुंचाया जाएगा। इस दौरान कुछ देर के लिए संबंधित मार्गों पर ट्रैफिक बंद किया जाएगा।

– 17 फरवरी की सुबह 9.15 बजे होटल मौर्या, होटल पनास, होटल लेमन ट्री से अतिथि ज्ञान भवन जाएंगे। दोपहर 2 बजे ज्ञान भवन से फ्रेजर रोड, डाकबंगला चौराहा, बेली रोड, पुनाईचक चौराहा से मैंगल्स रोड होते हुए सप्तमूर्ति से विधानसभा जाएंगे। शाम 6 बजे विधानसभा से सप्तमूर्ति, मैंगल्स रोड, पुनाईचक चौराहा, आयकर गोलंबर, डाकबंगला चौराहा, फ्रेजर रोड, जेपी गोलंबर होते हुए होटल मौर्या, होटल पनास, होटल लेमन ट्री जाएंगे। इस दौरान कुछ देर के लिए संबंधित मार्गों पर ट्रैफिक बंद किया जाएगा।

– 18 फरवरी की सुबह 9.30 बजे इन होटलों से विधानसभा, शाम 4.20 बजे विधानसभा से होटल, शाम 7 बजे होटल से देशरत्न मार्ग स्थित कर्पूरी संग्रहालय और इसी मार्ग से वापसी होगी। इस दौरान कुछ देर के लिए फ्रेजर रोड, बेली रोड, मैंगल्स रोड, देशरत्न मार्ग की ट्रैफिक बंद की जाएगी।

– 19 फरवरी की सुबह 9 बजे इन होटलों से जेपी गोलंबर, रामगुलाम चौक, एग्जीबिशन रोड ओवरब्रिज, पुराना बाइपास, अगमकुआं आरओबी, मसौढ़ी मोड़ से राजगीर, नालंदा जाएंगे। इसी मार्ग से अतिथियों की वापसी होगी। इस दौरान कुछ देर के लिए ट्रैफिक को बंद किया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here