राज्यसभा चुनाव :NDA और महागठबंधन के हिस्से 3-3 सीटें

0
1182

बिहार में राज्यसभा की छह सीटों के चुनाव में कोई उलटफेर नहीं देखने को मिला। सोमवार को नामांकन के अंतिम दिन छह सीटों के लिए छह उम्मीदवारों ने ही पर्चा भरा। इसलिए अब वोटिंग की नौबत नहीं आएगी। एनडीए और महागठबंधन के तीन-तीन उम्मीदवारों ने नामांकन दाखिल किया।

भाजपा से केन्द्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद, जदयू से प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह, उद्योगपति महेन्द्र प्रसाद उर्फ किंग महेन्द्र, राजद से राष्ट्रीय प्रवक्ता मनोज कुमार झा, कटिहार मेडिकल कॉलेज के एमडी अहमद अशफाक करीम और कांग्रेस से पूर्व केन्द्रीय मंत्री डॉ.अखिलेश प्रसाद सिंह ने नामांकन किया। नामांकन पत्रों की जांच 13 मार्च को होगी और उम्मीदवार 15 मार्च तक नाम वापस ले सकेंगे। 15 मार्च को ही सभी प्रत्याशियों को जीत का प्रमाण पत्र मिल जाएगा। इस तरह राजग और महागठबंधन को तीन-तीन सीटें मिल जाएंगी। अगर जरूरी होता तो मतदान 23 मार्च को होने वाला था।

अशोक चौधरी फैक्टर पूरी तरह रहा नाकाम

राज्यसभा चुनाव में सभी दल सातवें उम्मीदवार की अज्ञात आहट से सशंकित थे। नजरें कांग्रेस से जदयू में आए डॉ.अशोक चौधरी की ओर लगी थीं। चौधरी ने कांग्रेस से अखिलेश सिंह को उम्मीदवार बनाए जाने पर दल के टूट जाने की भविष्यवाणी कर दी थी। लेकिन ऐसा तो कुछ नहीं हुआ। एनडीए उम्मीदवारों के नामांकन के वक्त मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी मौजूद थे।

जदयू के किंग महेंद्र सबसे अमीर, पर कैश के मामले में राजद के अहमद अशफाक करीम से पीछ

बिहार से राज्यसभा के उम्मीदवारों में जदयू के महेंद्र प्रसाद उर्फ किंग महेंद्र सबसे अमीर हैं। वहीं राजद के उम्मीदवार प्रो. मनोज कुमार झा सबसे गरीब हैं। किंग महेंद्र के पास दवा कंपनियों समेत 4010 करोड़ की चल संपत्ति और 29.10 करोड़ की अचल संपत्ति है। वे हथियारों के भी शौकीन हैं। उनके पास एक रिवॉल्वर, एक बंदूक और एक राइफल है। परिवार के पास 1375 ग्राम सोना और 750 ग्राम चांदी भी है। हालांकि कैश के मामले में किंग महेंद्र राजद के उम्मीदवार अहमद अशफाक करीम से पीछे हैं। करीम के पास 96 लाख रुपए नकद है, जबकि उनकी पत्नी नजहत नफरीन के पास 36 लाख नकद है। दूसरी पत्नी डॉ. शीबा हुसैन के पास 2.6 लाख रुपए नकद है।

अशफाक करीम के पास 5.97 करोड़ की चल संपत्ति और पत्नियों के पास लगभग साढ़े तीन करोड़ की संपत्ति है। करीम की अचल संपत्ति 23 करोड़ की है। वहीं पत्नियों के पास 13.74 करोड़ की संपत्ति है। उनके पास रिवाल्वर और बंदूक के साथ 556 ग्राम सोना है। करीम की पत्नियों के पास 2.6 किलो सोना है। केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद के पास 17.71 करोड़ और पत्नी के पास 1.17 करोड़ की चल संपत्ति है। वहीं उनके पास 3.74 करोड़ रुपए की अचल संपत्ति है। प्रसाद के पास 20 ग्राम सोना है लेकिन फॉरच्यूनर, एकॉर्ड और स्कॉर्पियो कार हैं। उनकी पत्नी के पास होंडा सिटी कार है।

जदयू के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह 16 ग्राम सोना, 11.62 लाख रुपए की चल संपत्ति है। उनकी पत्नी के पास 17.67 लाख रुपए की चल संपत्ति है। इसके अलावा 1.73 करोड़ रुपए की अचल संपत्ति है। कांग्रेस के डॉ. अखिलेश प्रसाद सिंह के पास 3.26 करोड़ और उनकी पत्नी के पास 3 करोड़ की चल संपत्ति है। वहीं परिवार के पास 29 करोड़ की अचल संपत्ति है। अखिलेश के पास 350 ग्राम सोना और पत्नी के पास 1 किलो सोना है। राजद के मनोज कुमार झा के परिवार के पास 35 लाख रुपए की चल संपत्ति और 50 लाख रुपए की अचल संपत्ति है। मनोज के पास 20 ग्राम सोना और उनकी पत्नी के पास 250 ग्राम सोना है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here