संस्थान सुपर-30 में प्रवेश के लिए विभिन्न राज्यों में प्रतियोगी परीक्षा आयोजित की जाएगी

0
854

आइआइटी में चयन का प्र्याय बन चुका कोचिंग संस्थान सुपर-30 अपना दायरा बढ़ाएगा। संस्थान में अब सिर्फ 30 बच्चों का ही चयन नहीं होगा, बल्कि देश भर के बच्चे पर्याप्त संख्या में इसका हिस्सा बनेंगे।

सुपर 30 के संस्थापक आनंद कुमार ने बताया कि देश वो होनहार, जो अभाव के कारण अपने सपनों को साकार नहीं कर पा रहे हैं, उनके लिए सुपर 30 ने अपना हाथ आगे बढ़ाया है। संस्थान में प्रवेश के लिए विभिन्न राज्यों में प्रतियोगी परीक्षा आयोजित की जाएगी। ये बच्चे 2019 में आइआइटी प्रवेश परीक्षा के लिए सुपर 30 के विशेषज्ञों की देखरेख में तैयारी करेंगे।


उन्होंने कहा कि पहले चरण में पटना में 27 मई को एंट्रेंस टेस्ट आयोजित किया जाएगा। इसके लिए रामानुजन स्कूल आॅफ मैथेमेटिक्स, कुम्हरार में फार्म उपलब्ध हैं। एक घंटे के टेस्ट में 10 फिजिक्स, 10 केमिस्ट्री तथा 10 मैथेमेटिक्स के आॅब्जेक्टिव प्रश्न पूछे जायेंगे। सुपर 30 संस्थान 15 वर्ष में 396 बच्चों को आइआइटी में प्रवेश दिला चुका है। आनंद ने कहा किवह देश के अलग-अलग हिस्सों में इसके लिए टेस्ट आयोजित करेंगे और इसकी जानकारी वेबसाइट पर दी जाएगी।

16 वर्षों से करा रहे गरीब बच्चों को आइआइटी की तैयारी
आनंद कुमार 16 वर्षों से समाज के अतिवंचित तबके के 30 बच्चों को मुफ्त आइआइटी की तैयारी करवा रहे है। इस कार्य में उनका पूरा परिवार उनका साथ दे रहा। मां सभी 30 बच्चों के लिए खाना बनाती है। आनंद और उनके भाई प्रणव कुामर बच्चों को आइआइटी की तैयारी करवाते हैं। इसके लिए आनंद देश के साथ विदेशों में भी विख्यात हो चुके हैं।

आनंद कुमार ने इस कार्य के लिए देश के बड़े-बड़े उद्योगपतियों जैसे मुकेश अंबानी, आनंद महिंद्रा आदि की वित्तीय सहायता व अनुदान के प्रस्ताव को ठुकराया है। आनंद कुमार पर बायोपिक भी बन रही है जिसमें ऋृतिक रोशन मुख्य किरदार के रूप् में उनकी भूमिका निभा रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here