वाजपेयी जी का निधन देश के लिए अपूरणीय क्षति : त्रिवेदी

0
745

 

देश के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन से पूरा देश मर्माहत और शोकाकुल है. पूरा देश अपने प्रिय नेता की याद में दुखित है. जाति, धर्म और दल की सीमाएं टूट सी गई है.

निस्संदेह, वाजपेयी थें हीं ऐसी शख्सियत जिन्हें पूरा देश प्यार करता था, भले हीं उनकी दलीय विचारधारा से मतभेद रखता था.

वाजपेयी के निधन पर शोक जताने वालों में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, उपराष्ट्रपति वैंकेया नायडू, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, पूर्व प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी, लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन, पूर्व लोकसभा अध्यक्ष मीरा कुमार समेत तमाम बड़ी हस्तियां शामिल हैं.

वहीं इस मौके पर शोक संदेश जारी करते हुए रोहतास जिला कांग्रेस कमिटी के पूर्व महासचिव और वरिष्ठ नेता अलख निरंजन त्रिवेदी ने कहा कि वाजपेयी जी का निधन भारतीय राजनीति के एक युग का अंत है. देश ने नेता हीं नहीं वरन एक अभिभावक खोया है. आज हर भारतीय निःशब्द है और स्तब्ध है. ऐसा एहसास इसके पहले इंदिरा जी और राजीव गांधी जी के निधन के बाद आज हुआ है.

श्री त्रिवेदी ने कहा कि वाजपेयी की प्रतिभा को सबसे पहले पंडित जवाहर लाल नेहरु ने पहचाना था और उन्हें संसद में हीं प्रधानमंत्री बनने का आर्शीवाद दिया था. वाजपेयी के व्यकितत्व का यह ओज हीं था कि राजीव गांधी ने अपने प्रधानमंत्रित्व काल में उन्हें विदेश भेजकर उनकी किडनी की गंभीर बीमारी का इलाज कराया था.

Image may contain: Alakh Niranjan Trivedi, sitting and indoor

ऐसे महामानव के देहावसान पर मैं अपनी ओर से शोक संवेदना व्यक्त करता हूं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here